AURANGABAD NEWS: सदर अस्पताल में नहीं है सैनिटाइजर, बिना सुरक्षा के चल रही कोरोना जांच, मामले में सिविल सर्जन हैं बेपरवाह

AURANGABAD NEWS: सदर अस्पताल में नहीं है सैनिटाइजर, बिना सुरक्षा के चल रही कोरोना जांच, मामले में सिविल सर्जन हैं बेपरवाह

 AURANGABAD: देश में कोरोना की बढ़ती रफ्तार किसी से भी छुपी हुई नहीं है. पहले बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले काफी कम या नहीं के बराबर थे. अब धीरे-धीरे बिहार में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. इसी बीच सदर अस्पतालों में कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी को लेकर क्या कुछ व्यवस्था की गई है, और कोरोना जांच किस तरीके से चल रही है, इसको लेकर औरंगाबाद सदर अस्पताल में जांच-पड़ताल की गई.

औरंगाबाद जिले का एकमात्र मॉडल अस्पताल हाथी का दांत साबित हो रहा है. यहां कोरोना जांच की व्यवस्था की गई है. जिलेभर से लोग यहां आकर कोरोना की जांच कराते हैं. इसके बावजूद पूरे अस्पताल में कहीं और किसी के पास सैनिटाइजर तक नहीं है. अलग- अलग वार्ड, ब्लड बैंक और यहां तक की डॉक्टरों के चैंबर में भी सैनिटाइजर उपलब्ध नहीं था. जब वहां मौजूद लोगों से सैनिटाइजर की मांग की गई तो लोग बहाने बनाकर बचने लगे और जवाब देने में आनाकानी करने लगे.

हद तो तब हो गई जब इस मामले में अस्पताल में मौजूद सिविल सर्जन से बात की गई. उन्होनें बड़ी लापरवाही से सैनिटाइजर और साबुन की अनुपलब्धता के बारे में कहा और साफ कहा कि ‘यह कहना उचित नहीं है कि सैनेटाइजर और साबुन नहीं है, रहता है मगर अभी है नहीं’. उन्होनें कैमरे में कैद तस्वीरों को भी झुठला दिया और कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है, अभी खत्म हुआ होगा, रिफिल करवाया जाएगा. यहां तक की उन्होंने डंके की चोट पर कह दिया कि जिस जगह कोरोना की जांच की जाती है वहां तो वहां तो सैनिटाइजर होगा ही, जब कि ऐसा नहीं था. इससे साफ जाहिर होता है कि मॉडल सदर अस्पताल फिलहाल भगवान भरोसे चल रहा है और कोरोना के मद्देनजर इस तरह की लापरवाही बड़ा सबब बन सकती है. 



Find Us on Facebook

Trending News