बुद्धं शरणं गच्छामि! 138 दिन बाद धर्मावलंबियों के लिए खुले महाबोधि मंदिर के द्वार, सुरक्षा व्यवस्था दिखी चौकस

बुद्धं शरणं गच्छामि! 138 दिन बाद धर्मावलंबियों के लिए खुले महाबोधि मंदिर के द्वार, सुरक्षा व्यवस्था दिखी चौकस

GAYA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा अनलॉक की घोषणा किए जाने के साथ ही श्रद्धालुओं के चेहरे पर खासा संतोष फैल गया। दरअसल 138 दिनों से सभी धर्मस्थलों पर कोरोना का ताला लगा था और एहतियाती दृष्टिकोण से श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई थी। हालांकि गुरूवार से पाबंदियां हट गई और एक बार फिर बिहार सहित विश्व प्रसिद्ध महाबोधि मंदिर को सभी के दर्शन के लिए खोल दिया गया।

विश्व धरोहर महाबोधि मंदिर को आम श्रदालुओ के दर्शन के लिए खोल दिया गया है। बिहार सरकार के आदेश के बाद सभी धार्मिक स्थलों को कोरोना गाइडलाइन के साथ खोल गया है। अब दूर दराज से आने वाले पर्यटकों को निराश नही होना पड़ेगा। गुरुवार को मंदिर परिसर के साफ सफाई और सेनेटाइजेशन के बाद शुक्रवार को अहले सुबह भगवान बुद्ध के पूजा अर्चना करने के बाद खोला गया है। जिसमें बीटीएमसी ने अपने कुछ खास नियम बनाए है। उक्त नियमो में कोरोना गाइडलाइन की पालन करना जरूरी होगा। साथ ही बिना मास्क लगाए पर्यटकों को प्रवेश नही दिया जाएगा। मंदिर खुलने का समय सुबह 5 बजे से लेकर रात 9 बजे तक निर्धारित किया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News