भ्रष्टाचार को लेकर चिराग का सीएम नीतीश पर निशाना, पूछा- 'भागलपुर में पुल गिरना करप्शन नहीं तो और क्या है?'

भ्रष्टाचार को लेकर चिराग का सीएम नीतीश पर निशाना, पूछा- 'भागलपुर में पुल गिरना करप्शन नहीं तो और क्या है?'

पटना. बिहार में क्राइम और भ्रष्टाचार को लेकर चिराग पासवान ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला। उन्होंने भागलपुर में आंधी में पुल गिरने पर सीएम को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि पुल का निर्माण घटिया सामान से किया गया होगा। इसलिए पुल इतना जल्दी गिर गया। वहीं उन्होंने सीएम नीतीश की सुरक्षा को लेकर कहा कि डीजीपी को मुख्यमंत्री की सुरक्षा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। जब प्रदेश के मुखिया ही सुरक्षित नहीं होंगे, तो आम आदमी कैसे सुरक्षित रह पाएंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश की महत्वाकांक्षी योजना के तहत भागलपुर में गंगा नदी पर बनाया गया पुल आंधी में गिरने पर चिराग ने सीएम से पूछा कि इसमें भ्रष्टाचार नहीं, तो और क्या है? उन्होंने कहा कि इस पुल को डुप्लीकेट मेटेरियल से बनाया गया होगा। इसलिए यह पुल गिर गया। वहीं उन्होंने सीएम नीतीश की सुरक्षा को लेकर कहा कि जब बिहार के मुखिया ही सुरक्षित नहीं रहेंगे, तो आम आदमी में क्या संदेश जाएंगा। शनिवार को पूर्णिया में सीएम की सुरक्षा में फिर से सेंधमारी का मामला सामने आया था।

वहीं चिराग पासवान ने सीएम नीतीश से मुलाकात को लेकर कहा कि इसका राजनीतिक मतलब नहीं निकालना चाहिए। वह हमसे बहुत बड़े हैं। उनका सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत तौर पर सीएम का विरोध नहीं करते हैं। उनकी नीतियों को लेकर विरोध करते हैं। बता दें कि इफ्तार पार्टी के दौरान चिराग पासवान और सीएम नीतीश के बीच मुलाकात हुई थी। इस दौरान सीएम नीतीश ने चिराग को आने के लिए इशारा किया था। इसके बाद चिराग ने सीएम नीतीश के पांव छुए थे।

आंधी में पुल गिरा

बता दें कि भगालपुर में गंगा नदी पर 1710 करोड़ की लागत से अगवानी-सुल्तानगंज पुल बनाया जा रहा है। यह नीतीश सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में शामिल है। इस पुल की लंबाई तकरीबन 3.160 किलोमीटर है। शनिवार को आंधी में पुल का एक हिस्सा गिर गया। इससे करोड़ों रुपये का नुकासान हुआ है। जेडीयू विधायक ललित नारायण मंडल ने पुल निर्माण में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं।

सीएम नीतीश की सुरक्षा में सेंधमारी

सीएम नीतीश कुमार देश के पहले  ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल प्लांट का उद्घाटन करने के लिए पूर्णिया पहुंचे थे। यहां सीएम नीतीश कुमार की सुरक्षा में सेंधमारी करने की कोशिश का मामला सामने आया था। कार्यक्रम स्थल से महज 1 किलोमीटर की दूरी से एक संदिग्ध व्यक्ति को पुलिस ने दो पिस्टल के साथ पुलिस धर दबोचा था। उस व्यक्ति का नाम प्रकाश महतो बताया जाता है। वह ठुकरा गांव का रहने वाला है। उससे पूछताछ की जा रही है।


Find Us on Facebook

Trending News