अखिल भारतीय पिछड़ा वर्ग संघ ने महिला आरक्षण विधेयक को बताया संविधान विरोधी, राहुल गांधी की घोषणा का किया विरोध

अखिल भारतीय पिछड़ा वर्ग संघ ने महिला आरक्षण विधेयक को बताया संविधान विरोधी, राहुल गांधी की घोषणा का किया विरोध

PATNA :  अखिल भारतीय पिछड़ा वर्ग संघ के अध्यक्ष इन्द्र कुमार सिंह चन्दापुरी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के द्वारा केंद्र में यूपीए सरकार बनने पर महिला आरक्षण विधेयक पास कराने की घोषणा का विरोध किया है। चन्दापुरी ने कहा कि यह विधेयक एससी, एसटी , पिछड़ा-अतिपिछड़ा और अल्पसंख्यक महिलाओं के प्रगति, संविधान और सुरक्षा के लिए भारी खतरा है। इससे सिर्फ मुट्ठी भर संपन्न महिलाओं को आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक मजबूती मिलेगी।

इन्द्र कुमार चन्दापुरी ने आगे कहा कि देश में दलित, पिछड़ा और अल्पसंख्यक महिलाओं की संख्या देश की आधी आबादी की 92 प्रतिशत है। कांग्रेस ने इनके विकास के लिए कुछ नहीं किया। अब राहुल गांधी इनके हितों को दरकिनार कर जिस महिला आरक्षण विधेयक को लागू करने की घोषणआ कर रहे हैं वह न केवल एक राजनीतिक प्रपंच, बेइमानी और धोखाधड़ी है बल्कि देश की बहुसंख्यक महिलाओं की विकास की दिशा में एक घातक कदम होगा।

बैठक को स्वतंत्रता सेनानी सोनमती देवी, उपेक्षित व वंचित अतिपिछड़ा समाज के संस्थापक वृजनंदन निर्मल, प्रदेश अध्यक्ष रोहन भगत मालाकार, युवा अध्यक्ष कुमार सज्जन, उपाध्यक्ष धनराज सिंह, महासचिव जितेन्द्र चंद्रवंशी, सिपाही यादव, उपाध्यक्ष बैजनाथ प्रसाद यादव, संजय कुमार मूर्ति, अधिवक्ता राजीव रंजन, ई. केके सिंह, रुपबिहारी सिंह, अधिवक्ता महेश प्रसाद, सीपी सिंह आदि ने भी संबोधित किया।

Find Us on Facebook

Trending News