बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • कांग्रेस ने मोदी सरकार को दी चेतावनी, कहा अग्निपथ योजना के खत्म करने के लिए होगा संघर्ष, सेना में चयनित उम्मीदवारों को की ज्वायनिंग लेटर देने की मांग
  • कांग्रेस ने मोदी सरकार को दी चेतावनी, कहा अग्निपथ योजना के खत्म करने के लिए होगा संघर्ष, सेना

  • भाजपा नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पहुंचे पूर्णिया, कहा मोदी के कामों से गड़बड़ाया कांग्रेसी कुनबे का गणित
  • भाजपा नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पहुंचे पूर्णिया, कहा मोदी के कामों से गड़बड़ाया कांग्रेसी

  • गया में शख्स को गोली मारकर अपराधियों ने किया जख्मी, इलाज के दौरान अस्पताल में हुई मौत, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
  • गया में शख्स को गोली मारकर अपराधियों ने किया जख्मी, इलाज के दौरान अस्पताल में हुई मौत, पुलिस

  • पति घर नहीं ला सका मोमोज, नाराज पत्नी शिकायत लेकर पहुंच गई थाने
  • पति घर नहीं ला सका मोमोज, नाराज पत्नी शिकायत लेकर पहुंच गई थाने

  • लोकसभा चुनाव को लेकर जमुई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, अपराधी को पकड़ने के दौरान पांच लोगो को हथियार समेत किया गिरफ्तार
  • लोकसभा चुनाव को लेकर जमुई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, अपराधी को पकड़ने के दौरान पांच लोगो को हथियार

  • जीतन राम मांझी की पार्टी हम से एक सदस्य को विधान परिषद भेजेगी भाजपा, सम्राट चौधरी ने कर दिया साफ
  • जीतन राम मांझी की पार्टी हम से एक सदस्य को विधान परिषद भेजेगी भाजपा, सम्राट चौधरी ने कर

  • पटना में मंदिर निर्माण के लिए खुदाई के दौरान मिली सैकड़ों वर्ष पुरानी मूर्ति, लोगों ने शुरू की पूजा अर्चना
  • पटना में मंदिर निर्माण के लिए खुदाई के दौरान मिली सैकड़ों वर्ष पुरानी मूर्ति, लोगों ने शुरू की

  • बांका में पुलिस टीम पर हमला करना पड़ा महंगा, पुलिस ने चार आरोपियों को हथियार के साथ किया गिरफ्तार
  • बांका में पुलिस टीम पर हमला करना पड़ा महंगा, पुलिस ने चार आरोपियों को हथियार के साथ किया

  • सीपीआई ने वायनाड से की अपने कैंडिडेट की घोषणा, कहीं अमेठी के साथ वायनाड से न भी कट जाए राहुल गांधी का पत्ता
  • सीपीआई ने वायनाड से की अपने कैंडिडेट की घोषणा, कहीं अमेठी के साथ वायनाड से न भी कट

  • जन विश्वास यात्रा को लेकर अररिया में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने किया रोड शो, देखने के लिए उमड़ा जनसैलाब
  • जन विश्वास यात्रा को लेकर अररिया में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने किया रोड शो, देखने के लिए

जोकीहाट : मुस्लिम वोटर नीतीश के साथ या लालू के साथ !

जोकीहाट :  मुस्लिम वोटर नीतीश के साथ या लालू के साथ !

PATNA : जोकीहाट विधानसभा उपचुनाव बिहार की राजनीति का टर्निंग प्वाइंट बनेगा। इस चुनाव के नतीजे बताएंगे कि मुस्लिम वोटर नीतीश के साथ हैं कि लालू प्रसाद के साथ। जदयू को नीतीश के विकास मॉडल पर बहुत भरोसा है। नीतीश अक्सर कहते रहे हैं कि वे जनता के बीच अपने काम की मजदूरी मांगने जाते हैं। तो क्या जोकीहाट में विकास का मुद्दा काम आएगा या फिर समुदाय के नाम पर वोटिंग होगी। नीतीश के लिए यह सीट प्रतिष्ठा की लड़ाई है। जदयू पर दबाव है कि वह अपनी सीट को बरकरार रखे। इसी ख्याल से गुरुवार को नीतीश कुमार ने जोकीहाट में चुनावी सभा की।

JOAQUIAT-MUSLIM-VOTERS-WITH-NITISH-OR-LALU2.jpg

जोकीहाट मुस्लिम बहुल इलाका है। इस विधानसभा सीट पर तस्लीमुद्दीन परिवार का कब्जा रहा है। 13 चुनावों में 9 बार ये सीट तस्लीमुद्दीन परिवार के खाते में गयी है। लेकिन चार बार यहां धारा के खिलाफ भी नतीजे आये हैं। राजद में रहते हुए भी सरफराज आलम यहां दो बार हार चुके हैं। यही वो नतीजे हैं जो नीतीश कुमार को सुकून दे सकते हैं।

फरवरी 2005 और अक्टूबर 2005 में यहां नीतीश कुमार का जादू चला था। दोनों बार जदयू के उम्मीदवार मंजर आलम ने राजद के सरफराज आलम को हराया था। उस समय सीमांचल के हेवीवेट तस्लीमुद्दीन जिंदा थे। उनके रहते नीतीश कुमार ने तीर को निशाने पर बेधा था। नीतीश कुमार के बढ़ते आभामंडल को देख कर ही सरफराज राजद से जदयू में आये थे। वे जदयू से दो बार विधायक भी बने। उनके राजद से सांसद चुने जाने के बाद ही ये सीट खाली हुई है।

JOAQUIAT-MUSLIM-VOTERS-WITH-NITISH-OR-LALU3.jpg

दिवंगत तस्लीमुद्दीन पहली बार 1969 में कांग्रेस के टिकट पर यहां से विधायक बने थे। उसके बाद यहां उनका ऐसा दबदबा कायम हुआ कि कभी हार का सामना नहीं करना पड़ा। वे कभी कांग्रेस, जनता पार्टी, निर्दलीय और यहां तक कि सपा के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ते रहे लेकिन हर बार जीते। वे यहां से 5 बार विधायक बने। सरफराज आलम यहां से 4 बार विधायक रहे। यानी पिता-पुत्र 9 बार यहां से जीते।

नीतीश कुमार के लिए परेशानी का सबब है अररिया लोकसभा उपचुनाव का परिणाम। अररिया लोकसभा की छह विधानसभा सीटों में से चार पर बीजेपी ने बढ़त बनायी थी लेकिन जोकीहाट और अररिया सीट पर राजद के पक्ष में इतनी जबर्दस्त वोटिंग हुई कि सरफराज आलम जीत गये। जोकीहाट में सरफराज आलम को बंपर वोट मिले थे। लेकिन उसे दिवगंत तस्लीमुद्दीन के सहानुभूति वोट से जोड़ कर देखा गया था।

JOAQUIAT-MUSLIM-VOTERS-WITH-NITISH-OR-LALU4.jpg

जोकीहाट में बहुसंख्यक वोटर मुस्लिम हैं। वे विकास के नाम पर वोट करेंगे कि तस्लीमुद्दीन की विरासत को आगे बढ़ाएंगे, यह एक बड़ा सवाल है। वैसे ये भी सच है कि यहां से सरफराज आलम दो बार चुनाव हार चुके है। यानी यहां राजद को हराया जा सकता है,बशर्ते नीतीश का जादू फिर चले।