अटल बिहारी वाजपेयी से सुशासन का पाठ सीख भ्रष्टाचारियों की गोद में जा बैठे नीतीश कुमार : विजय कुमार सिन्हा

अटल बिहारी वाजपेयी से सुशासन का पाठ सीख भ्रष्टाचारियों की गोद में जा बैठे नीतीश कुमार : विजय कुमार सिन्हा

PATNA : रविवार को नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा के द्वारा भाजपा लखीसराय विधान सभा क्षेत्र के प्रधान कार्यालय में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। मीडिया बंधुओं को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आज महत्वपूर्ण दिन है, आज हमारे आदर्श भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती है।  जिसे सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है और आज ही के दिन प्रधानमंत्री के मन की बात का प्रसारण हुआ। जिसमें उन्होंने नए भारत का निर्माण और पूरे विश्व के परिपेक्ष में भारत का एक व्यापक दृष्टिकोण प्रदर्शित किया। 

सिन्हा ने आगे कहा कि मैं श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री को ध्यान दिलाना चाहता हूं कि आज अटल जी की जयंती है। सुशासन दिवस है। सुशासन का पाठ आप और नरेंद्र मोदी दोनों एक साथ पढ़े थे। एक ओर नरेंद्र मोदी जो भ्रष्टाचार मुक्त भारत का आधार तैयार कर रहे हैं। भ्रष्टाचार मुक्त भारत बना रहे हैं। वहीं अटल जी की गोद में बैठ कर सुशासन का पाठ पढ़ने वाले नीतीश कुमार भ्रष्टाचारी और अपराधी की गोद में जाकर बैठ गए हैं। आपने सुशासन का गला घोट दिया है। अटल जी की आत्मा आज भी कचोटती होगी। लालू प्रसाद जो अपने भ्रष्टाचार के लिए जाने जाते थे उन्हीं की गोद में बैठ कर आपने बिहार की जनता को धोखा देने का पाप किया है। आगे बात करते हुए विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि बीपीएससी और बीएसएससी पेपर लीक भ्रष्टाचार का आधार ही कहा जा सकता है। उन्होंने दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि जो अभ्यर्थी दिन-रात मेहनत कर रहे हैं उनकी प्रतिभा का अपमान किया जा रहा है।  ऐसे भ्रष्ट पदाधिकारियों को आयोग में जगह दिया गया है जो कदाचार मुक्त व पारदर्शी तरीके से परीक्षा का आयोजन नहीं करवा पा रहे। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि ऐसे भ्रष्टाचारी और निकम्मे अधिकारियों को पद पर बनाये रखने का क्या औचित्य है।  

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इस मामले में जो सरकार के लोग हैं वह कहीं ना कहीं इसके पीछे अवैध वसूली का प्रयास कर प्रतिभा को दबाने का कुकर्म कर रहे हैं। बीपीएससी या अन्य भर्ती के आयोगों में भ्रष्टाचार चरम पर है और नीतीश जी हस्तिनापुर के धृतराष्ट्र बनकर सारे कुकर्म को देख रहे हैं लेकिन कुछ कर नहीं पा रहे। जनता को भी अब आपकी बेबसी साफ नजर आ रही है। उन्होंने बिहार में शराबबंदी को पूरी तरह से फेल बताते हुए कहा कि शराब की होम डिलीवरी पूरे प्रदेश में हो रही है। जहरीली शराब से मरने वाले लोगों के प्रति संवेदना दिखाने के बजाय आप उन पर ताना मारते हैं कि जो पियेगा वह मरेगा। ऐसे संवेदनहीन मुख्यमंत्री को हम हमेशा आईना दिखाने का काम करेंगे। नेता प्रतिपक्ष ने कड़े शब्दों में कहा कि अपराधी की गोली से, जहरीली शराब से और सरकार की नाकामी से जिनकी भी मृत्यु होगी उन्हें मुआवजा दिलाने की लड़ाई और उसके प्रति संवेदना प्रकट करने का काम विपक्ष निरंतर करते रहेगी।

विजय कुमार सिन्हा ने आगे कहा कि आज शराब माफियाओं का एक बहुत बड़ा जमात बिहार में खड़ा हो चुका है।  जो सरकार के लिए बड़ी चुनौती है। सरकार पदाधिकारी बदल भी दे तो उससे ना अपराध कम होगा और न ही भ्रष्टाचार कम होगा। क्योंकि जब तक सरकार की नीयत सही नहीं होगी, भ्रष्टाचार के खिलाफ मोर्चा नहीं खोलेगी तब तक कोई उपाय नहीं है। भ्रष्टाचार और अपराध ऐसे ही बढ़ता रहेगा। वहीं सदन में जो शराब बरामदगी की बात आई थी। उस मामले में नेता विपक्ष ने स्पष्ट तौर पर कहा कि चाहे कोई भी व्यक्ति हो। अगर अपराध किया है तो उस पर कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाये। लेकिन किसी के प्रतिष्ठा को धूमिल करने का कुंठित प्रयास जो भी कर रहे हैं उन पर सरकार कठोर कार्रवाई करे।

Find Us on Facebook

Trending News