शारदीय नवरात्रः मां कालरात्रि स्वरूपा अंबिका के खुले कपाट, सुबह 4 बजे से ही लगी है लंबी कतार, वैदिक मंत्रोच्चार से हो रही स्तुति

शारदीय नवरात्रः मां कालरात्रि स्वरूपा अंबिका के खुले कपाट, सुबह 4 बजे से ही लगी है लंबी कतार, वैदिक मंत्रोच्चार से हो रही स्तुति

CHHAPRA: शारदीय नवरात्रि की महासप्तमी के दिन पूजा पंडालो में मां के पट खुल गए। इसके अलावा देशभर में स्थित 51 शक्तिपीठों सहित सिद्धपीठों में विशेष रूप से वैदिक मंत्रोच्चार कर माता की आराधना की गई, जिससे वातावरण भक्तिमय हो गया। वहीं छपरा में मां कालरात्रि स्वरूपा अंबिका के दर्शन के लिए प्रातः 4 बजे से ही जनसैलाब उमड़ पड़ा।

छपरा स्थित मां अंबिका मंदिर के पट श्रद्धालुओं के लिए सुबह 4 बजे से ही खोल दिए गए। हालांकि अब 12 घंटे से ज्यादा का वक्त बीत चुका है, मगर भक्तों की कतार में कोई कमी नहीं आई है। दर्शनार्थियों से पूरा मंदिर परिसर पटा हुआ है। देवी अंबिका के जयकारे और दुर्गा सप्तशती के श्लोक माहौल को अलग ही रंग दे रहे हैं। पास स्थित गंगा तट पर भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी हुई हैं। क्या बच्चे, क्या बूढे, हरेक आयुवर्ग के लोग मंदिर में दर्शन हेतु नजर आए। 

मन्दिर के गर्भ गृह मे मां कालरात्रि स्वरूपा अंबिका देवी का पूजा करा रहे पूजारी राजकुमार तिवारी और कन्हैया कुमार तिवारी ने बताया की लोगो को सोशल डिस्टेंसिग व मास्क के प्रयोग के साथ गर्भ गृह मे मां का दर्शन करने का अनुरोध किया जा रहा है। ताकि किसी को कोई परेशानी न हो। हम लोगो को भक्ति के साथ सुरक्षा का भी ध्यान रखना है।

Find Us on Facebook

Trending News